मानसून का इंतजार कर रहे किसान जोर शोर से बुवाई की तैयारी कर रहे हैं। प्लानिंग और समझदारी से की गयी खेती की शुरुआत, आगे आने वाली कई समस्याओं से बचा कर, फसल का अच्छा उत्पादन ला सकती है. बीज का सही चुनाव, सही समय पर बुवाई और विभिन्न कम घुलनशील फर्टिलाइजर्स और सूक्ष्म पोषक तत्वों को अच्छे सड़े हुए कम्पोस्ट के साथ जमीन में मिलाना कम खर्चे में अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए सही कदम है. (डिटेल के लिए नीचे देखें)

किसान भाई अपनी फसल और बेसल खाद के अनुरूप लाभकारी सूक्ष्मजीवों का प्रयोग जरूर करें। फ़र्टिलाइज़र के बाद सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण इनपुट ये सुक्ष्मजैविक कल्चर ही हैं. 

लाभकारी सूक्ष्मजीवों के अनेकों लाभ हैं, जैसे-

– रोगकारी फंगस से बचने में

– नाइट्रोजन स्थिरीकरण, पोटाश-फॉस्फोरस-सल्फर घुलनशीलता बढ़ाने और मोबिलाइजेशन में

– घुलनशील पोषकों और सूक्ष्म पोषकों को पानी के साथ बह जाने से रोकने में

– पौधों की बिना सिंथेटिक ग्रोथ रेगुलेटर के सुचारू वृध्दि-विकास-पुष्पन-फलन के लिए

-जमीन के आर्गेनिक मैटर, जलधारण क्षमता बढ़ाने में

लाभकारी सूक्ष्मजीव किसान के अविकल्पी साथी हैं।

विभिन्न फसलों में बीजोपचार या शिशु अवस्था में प्रयोग के लिए लाभदायक सूक्ष्मजीवों की अनुशंषा:

(सूक्ष्मजीव फसल की विभिन्न अवस्थाओं पर प्रयोग किये जा सकते हैं, किंतु बीजोपचार सबसे आसान और सस्ता विकल्प है)

किसान भाई सूक्ष्म पोषक तत्वों का प्रयोग जरूर करें। मुख्य सूक्ष्म तत्व बेसल में डाल कर कम खर्च में अधिक पैदावार ली जा सकती है. अन्य महत्वपूर्ण सूक्ष्म तत्व चीलेटेद रूप में स्प्रे से देना ज्यादा लाभकारी रहता है, खासतौर पर उच्च उत्पादन वाली फसलों में.

मूल पोषक तत्वों के बिना अपने इन्वेस्टमेंट का सही लाभ नहीं ले पाएंगे. बेसल में कम घुलनशील खाद का प्रयोग जरूर करें, यह सस्ता और टिकाऊ रास्ता है.

और अंत में सावधानियां!

लाभदायक सूक्ष्मजीव अन्य खाद/रसायनों/जैव रसायनों से बिल्कुल अलग हैं. इनके प्रयोग के लिए कुछ विशेष सावधानियां रखनी चाहिए. आखिर ये अदृश्य जीव पौधों के ख़ास साथी जो हैं.

आप अपने सवाल Whatsapp (9926622048) या नीचे कमेंट बॉक्स में भेज सकते हैं.

 

 

 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: कृपया कॉपी न करें, बल्कि लिंक शेयर करें. धन्यवाद्!
%d bloggers like this: